छोड़ दो छूट जाएगी प्रेरणादायक कहानी ।



3 ) एक समय की बात है दो पति पत्नी थे , एक दूसरे को काफी प्रेम भी करते थे लेकिन पत्नी अपने पति की शराब पीने से काफी परेसान रहती थी, ओर वो अपने पति को इस प्रोब्लेम से दूर करना चाहती थी , बहुत से लोगो को उसने ये प्रोब्लेम को बताया लेकिन किसी के पास भी इस प्रोब्लेम का निकाल नहीं मिल पा रहा था,

अब हुआ क्या उसने अपनी एक सहेली से सुना के बहुत दूर एक बाबा रहते है जिसके पास एक बार अगर आप पहुंच जाओ तो बाबा आपके पति को इस शराब की लत से राहत दिला सकते है, अब इतना सुनते ही वो बहुत खुस होती है ओर अपने पति से कहती है मे आपकी शराब की लत से बहुत परेसान हु आप शराब को पीना छोड़ दो आप तुरंत तो नहीं छोड़ सकते ये मे भी समझ सकती हु लेकिन आपकी शराब की लत मे छुड़वाना चाहती हु क्या आप मेरे लिए इतना नहीं कर सकते ...? अब पति इतना सुनकर कहता है मे छोडना तो चाहता हु लेकिन मे क्या करू छूटती नहीं है, फिर पत्नी कहती है एक काम करो सिर्फ जाइए शराब छूटे के न छूटे ये तो दो नंबर की बात है, अब हुआ क्या पत्नी की ये बात सुन कर वो हा बोल देता है ओर उसकी पत्नी ने जो बाबा का पता दिया होता है वो लेके उनको ढूँढने निकल जाता है अब ढूंढते -ढूंढते, ढूंढते -ढूंढते  वो पता पे पहुच जाता है लेकिन बाबा मिलते नहीं है , बाबा के शिष्य से पूछता है के बाबा कहा है शिष्य कहता है बाबा तो नहीं है वो तपस्या करने जंगल मे गए है आप इंतजार करो आते ही होंगे , वो बाबा का इंतजार करने लगता है बहुत समय निकाल जाता है लेकिन बाबा आते नहीं शिष्य को वो फिर पूछता है बाबा कब आएंगे शिष्य फिर कहता है इंतजार करिये आते ही होंगे, फिर इंतजार करता है अब फिर हुआ क्या उसके सब्र का बान टूट जाता है ओर वो शिष्य को कहता है एक काम करिये आप मुझे उनकी जगह बता दीजिये मे खुद ही उनके पास पहुच जाऊंगा फिर वो ढूंढते -ढूंढते, ढूंढते -ढूंढते शिष्य की बताई हुई जगह पे पहुच ही जाता है,


अब देखता है इतनी उचि जगह पे बाबा उल्टे पेड़ पे  लटक के तपस्या कर रहे है, वो ज़ोर से चिल्लाता है बाबा नीचे आ जाओ नहीं तो आप गिर जाओगे 

बाबा तपस्या मे लिन थे कहा सुनने वाले थे , फिर चिल्लाता चिल्लाता उनके नजदीक पाहुचता है बाबा हाथ दीजिये मे आप को पकड़ लेता हु ओर आप नीचे आ जाइए वरना आप गिर जाओगे, ये सुन बाबा की आख खुल जाती फिर से वो बोलता है फिर बाबा कहते बेटा मे आना तो चाहता हु लेकिन आ नहीं पा रहा हु , वो बाबा की बात सुन कर आश्चर्य चकित हो जाता है वो कहता है बाबा आप आ जाओगे आने की कोशिश तो करिये लेकिन बाबा का फिर वही जवाब मे आना तो चाहता हु लेकिन आ नहीं पा रहा हु , अब बाबा के बार बार ये कहने पे गुस्सा आ जाता है बोलता है  बाबा आप क्या मज़ाक कर रहे हो एसे केसे नहीं आ सकते आपका हाथ छोड़ो ओर मे आपको पकड़ लूँगा आ जाओ आप ,अब बाबा बोलते है मे वेसे ही नहीं आ पा रहा हु जेसे तुझसे शराब नहीं छुट रही है तू भी कहता है के मे छोडना तो चाहता हु लेकिन छूटती नहीं है .... 

अब बाबा की ये बात सुन कर  उसकी आखे खुल जाती है ओर वो बाबा के सामने देख कर मुस्कुराने लगता है, ओर बाबा से कहता है मे छोडना भी चाहता हु ओर छुट भी गई ....

प्रेरणादायक कहानिया 

छोड़ दो छूट जाएगी 

आसा करती हु की संगीता की प्रेरणादायक कहानी आपको पसंद आएगी ।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

जोब में खुदके दिमाग को पोजेटिव कैसे रखे

लीडर केसे बने

औरत के बिना हर दिन अधूरा है